Istanbul bomb blast
लेटेस्ट न्यूज

तुर्की देश के इस्तांबुल शहर के सड़क पर बम धमाका, 6 की मौत, 81 लोग घायल, जाने पूरी घटना

रविवार शाम को तुर्की देश के इस्तांबुल शहर में सड़क पर एक बड़ा धमाका हुआ। इस धमाके के कारण 6 लोगों की जान चली गई एवं 81 लोग घायल हो चुके हैं एवं दो लोग अभी भी गंभीर बताया जा रहे हैं।

रविवार को हुई इस धमाका को तुर्की की सरकार के द्वारा आतंकी हमला बताया जा रहा है। इस हमला में एक महिला को गिरफ्तार किया गया है। उस घटनास्थल पर एक विस्फोटक से भरा बैग छोड़कर जाने के जुर्म में उसे गिरफ्तार किया गया है।

कब और कैसे हुई या धमाका

इस्तांबुल के गवर्नर ने बताया कि यह धमाका केंद्रीय इस्तांबुल के तकसीम इलाके की इस्तिकलाल सड़क पर करीब शाम को 4:20 (इस्तानबल समयानुसार) पर हुआ।

बता दे कि जिस सड़क पर यह हमला हुआ है वह स्थान मूल के एक बहुत प्रसिद्ध एवं बिजी सड़क है। इस सड़क पर बहुत सारे मॉल एवं बड़े-बड़े दुकाने हैं। रविवार होने के कारण इस सड़क पर बहुत सारे लोग यहां शॉपिंग करने आते हैं।

धमाका के जोर से आवाज सुनते ही लोगों में दहशत मच गई एवं लोग इधर से उधर भागने लगे एवं चार लोग ने घटनास्थल पर ही अपना दम तोड़ दिया एवं दो लोगों की मौत अस्पताल में हो गई।

यहां देखें वीडियो

एक महिला को किया गया गिरफ्तार

तुर्की के सरकार के मुताबिक धमाका करने वाली एक महिला को गिरफ्तार किया जो कि घटनास्थल पर धमाका करने के लिए जिम्मेदार है।

साथ ही यह बताया गया कि जहां स्थल पर बम धमाका हुआ है वहां पर या महिला लगभग 40 मिनट तक सड़क के किनारे के बेंचो पर बैठी रही थी एवं जाते समय घटनास्थल पर एक बैग छोड़ कर चली गई।

उसने बताया कि इस इस बैग में ही विस्फोटक था या उसे कहीं रिमोट से धमाका किया गया है क्योंकि महिला के जाने के तुरंत बाद ही या धमाका हुआ।

अन्य लोगों को भी किया गया गिरफ्तार

ऑनलाइन जजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक, तुर्की के जांच एजेंसी के मुताबिक इस बम धमाके के पीछे कई अन्य लोग भी शामिल होने की शंका है। यह लोग पुरुष एवं बहुत युवा है।

तुर्की में हुए इस बम धमाके के करने के पीछे अभी तक किसी ने जिम्मेदारी नहीं ली है परंतु गिरफ्तार हुई महिला का संबंध प्रतिबंधित कुर्दिस्तान वर्कर्स पार्टी (PKK) से होने की आशंका बताई जा रही है। बता दे कि PKK तुर्की में पहले भी बम धमाका कर चुकी हैं।

इस घटना के जुर्म में अभी तक 46 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

इस घटना पर तुर्की के राष्ट्रपति ने क्या कहा

तुर्की की राष्ट्रपति रेसेप तैयप एर्दोगन ने इस घटना पर दुख जताते हुए इस हमला को एक विश्वासघाती हमला करार दिया है और साथ ही इस हमले को करने वाले अपराधियों को एक बेहद कड़ी सजा दिलाने की प्रतिज्ञा ली है।

साथ ही उन्होंने कहा कि “हमारे लोग इसे लेकर आश्वस्त रहें कि हमले में शामिल दोषियों को वैसी सजा दी जाएगी, जिसके वो हकदार हैं।”

उन्होंने यह भी कहा कि बिना जांच पड़ताल किए हुए इस हमला को एक आतंकी हमला का नाम देना गलत होगा। इस घटना की जांच के लिए एक गठन तैयार किया गया है।

भारत ने इस घटना पर अपना दुख जताते हुए भारत के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि ‘इस्तांबुल में हुए धमाके में लोगों की जान जाने की त्रासद घटना पर भारत तुर्की की सरकार और लोगों के प्रति गहरी संवेदनाएं व्यक्त करता है। घायलों के साथ भी हमारी संवेदनाएं हैं। हम उनके जल्द स्वस्थ होने की कामना करते हैं।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *