Electric bond
लेटेस्ट न्यूज फाइनेंस बिजनस

भारतीय जनता पार्टी को 2021-22 में मिले 614 करोड़ का चंदा, जानिए किस किस पार्टी को कितना मिला चंदा

साल 2021-22 में भारतीय जनता पार्टी को 614.53 करोड़ रुपए चंदा के रूप में मिले थे जो कि अन्य बाकी राष्ट्रीय पार्टी को मिली चंदे की राशि से कहीं ज्यादा है।

भारतीय चुनाव आयोग के मुताबिक कांग्रेस को 2021-22 साल में 95.46 करोड़ रूपये का चंदा मिला है। भाजपा को मिली चंदे की राशि कांग्रेस को मिली राशि से 6 गुना है।

आगे 2020-21 साल के बात करे तो इस वर्ष भाजपा को 477.5 करोड़ रुपये चंदे के रूप में मिले वही कांग्रेस को सिर्फ 745 करोड़ रूपये प्राप्त हुए।

किस पार्टी को कितना मिला चंदा

यदि हम देश के प्रमुख 7 पार्टी (भाजपा, कांग्रेस, तृणमूल कांग्रेस (TMC), नेशनल पीपल्स पार्टी (NPP), राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP), CPI-M और बसपा) को मिले 2021-22 में मिले चंदे को एक साथ मिला दे तो कुल रकम 778.7 करोड़ रुपए होते हैं।

वर्ष 2021-22 में भाजपा को 614.53 करोड़ रूपये, कांग्रेस को 95.46 करोड़ रुपए, TMC को 43 लाख रुपए चंदे के रूप में मिले थी एवं आम आदमी पार्टी को 2020 21 वर्ष में 44.54 करोड़ रुपए की राशि चंदे के रूप में प्राप्त हुई थी।

फिलहाल 2021-22 साल में मिले चंदे को बसपा और कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (CPI) ने अभी तक अपना ब्यौरा इलेक्शन कमिशन को नहीं दिया है।

अगर हम 2020-21 वर्ष में ऊपर के सात पार्टी के साथ CPI को भी मिला दे तो इन 8 पार्टियों को चंदे की राशि मिलाकर कुल 592 करोड़ रुपए होते हैं।

भाजपा को कहां से मिला इतना चंदा

द टाइम्स ऑफ इंडिया के रिपोर्ट के मुताबिक, 2021-22 वर्ष में मिली भाजपा को 614- 15 करोड़ रूपये में से 56% से भी अधिक धनराशि भारतीय जनता पार्टी को इलेक्ट्रोल ट्रस्ट के द्वारा मिली है।

इलेक्ट्रोल बॉन्ड एक तरह का कागजी बॉन्ड की तरह होता है जिसमें उस बॉन्ड की सिर्फ कीमत लिखी होती है। यहां बॉन्ड की कीमत 1000 से लेकर एक करोड़ तक होता है।

DW की एक रिपोर्ट के अनुसार 2019-20 वर्ष में भाजपा को इलेक्ट्रोल बांड के द्वारा 2555 करोड़ रुपए मिले थे। वहीं कांग्रेस को सिर्फ 318 करोड़ रूपये इलेक्टोरल बॉन्ड के द्वारा मिला था।

इलेक्टोरल बॉन्ड से संबंधित जरूरी बातें

इलेक्टोरल बॉन्ड को आप जनवरी, अप्रैल, जुलाई और अक्टूबर महीने की शुरुआत से 10 तारीख तक ही इस बॉन्ड को खरीद सकते हैं। यह बॉन्ड 1000 से एक करोड़ रुपए तक के आते हैं।

यह बॉन्ड आपको सिर्फ SBI की 29 शाखाएं जैसे लखनऊ, शिमला, देहरादून, कोलकाता, गुवाहाटी, चेन्नई, तिरुवनंतपुरम, पटना, नई दिल्ली, चंडीगढ़, श्रीनगर, गांधीनगर, भोपाल, रायपुर और मुंबई जैसे शहरों में ही मिलेंगे।

इलेक्टोरल बॉन्ड के द्वारा दिए गए किसी पार्टी को चंदा किस व्यक्ति से प्राप्त हुआ है इसका जानकारी सिर्फ बैंक के पास होता है। बैंक के अलावा इस जानकारी को और कोई नहीं जान सकता।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *